दिल्ली में विश्व पुस्तक मेला शुरू, दिखेगा महिला लेखकों की कलम का जादू


नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी स्थित प्रगति मैदान में शनिवार को नौ दिवसीय विश्व पुस्तक मेला शुरू हो गया. मानव संसाधान विकास राज्य मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने विश्व पुस्तक मेले का उद्घाटन किया, जिसके बाद दोपहर में इसे लोगों के लिए खोल दिया गया. उद्घाटन समारोह की मुख्य अतिथि मशहूर उड़िया लेखक और ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता प्रतिभा राय तथा विशेष अतिथि डेलिगेशन ऑफ द यूरोपियन यूनियन टू इंडिया के एंबेसेडर तोमास कोजलोवस्की थे.

इस मौके पर चिल्ड्रन्स पवेलियन में संगोष्ठि, पैनल चर्चा, कथावाचन, सृजनात्मक लेखन पर कार्यशाला सहित कई गतिविधियां हो रही हैं. कार्यक्रम के आयोजक नेशनल बुक ट्रस्ट ने एक बयान में कहा कि नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला में इस बार का थीम ‘मानुषी’ है, जिसमें महिलाओं द्वारा महिलाओं पर लेखन और प्राचीन समय से लेकर अब तक महिलाओं के लेखन की समृद्ध परंपरा का प्रदर्शन किया जाएगा. नेशनल बुक ट्रस्ट अपनी स्थापना का 60वां दिवस मना रहा है. विश्व पुस्तक मेले में देश व विदेश से लगभग 800 प्रकाशकों ने हिस्सा लिया है.

एंट्री टिकट 20 और 30 रुपए
विश्व पुस्तक मेले का आयोजन दिल्ली के प्रगति मैदान में सुबह 11 बजे से शाम के 8 बजे तक 7 से 15 जनवरी के बीच होगा. हालांकि आखिरी दिन यानि 15 जनवरी को इसका समय सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक रखा गया है. बुक फेयर में एंट्री टिकट के द्वारा होगी और इसकी कीमत 20 और 30 रुपए होगी. बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए मेले में निःशुल्क प्रवेश रहेगा. दिव्यांगों के लिए व्हील चेयर भी मुहैया कराई जाएंगी. स्कूल ड्रेस में आने वाले बच्चों को टिकट नहीं लेना पड़ेगा, उन्हें आइकार्ड दिखाना होगा. 12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए 20 रुपये और बड़ों के लिए 30 रुपये का टिकट होगा.

यहां मिलेंगे बुक फेयर के टिकट
किताबों के महाकुंभ में दर्शकों की सहूलियत का ध्यान रखा गया है. इसके लिए दिल्ली मेट्रो के 48 स्टेशनों के साथ प्रगति मैदान के काउंटर पर टिकट मिलेगा. हॉल नंबर 6, 7, 8, 9, 10, 11, 18, हॉल नंबर 12 और 12ए में पुस्तक प्रेमियों को पुस्तकें मिलेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*