आज अरविन्द केजरीवाल सरकार द्वारा पानी की दरों में 20 प्रतिशत की वृद्धि करने की घोषणा-मनोज तिवारी


नई दिल्ली, 28 दिसम्बर। दिल्ली भाजपा ने आज अरविन्द केजरीवाल सरकार द्वारा पानी की दरों में 20 प्रतिशत की वृद्धि करने की घोषणा के विरोध में मुख्यमंत्री निवास पर विशाल प्रदर्शन किया।

दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री विजेन्द्र गुप्ता, वरिष्ठ भाजपा नेता श्री पवन शर्मा ने इस विशाल प्रदर्शन का नेतृत्व किया और श्री राजीव बब्बर इसके संयोजक थे। इस प्रदर्शन में वरिष्ठ प्रदेश पदाधिकारी श्री रविन्द्र गुप्ता, श्री राजेश भाटिया, श्री जय प्रकाश, श्री मोहन सिंह बिष्ट, श्री अभय वर्मा, श्रीमती पूनम पाराशर झा, डाॅ. मोनिका पंत, श्रीमती योगिता सिंह, श्रीमती मीनाक्षी, श्री संजीव शर्मा, श्री गजेन्द्र यादव, श्री विक्रम बिधूड़ी, श्री तजेन्द्रपाल सिंह बग्गा, श्री सुनील यादव, श्री मोहम्मद हारून, श्री मनीष सिंह, श्री गौरव खारी, श्री मोहन लाल गिहारा, श्री अरविन्द गर्ग, श्री रोशन कंसल, श्री मनोज शौकीन, श्री रमेश खन्ना, श्री सुमन प्रकाश शर्मा, श्री रोहताश बिधूड़ी, श्री अजय महावर, श्री कैलाश जैन, श्री ललित जोशी, श्री रामकिशोर शर्मा तथा हजारों पार्टी कार्यकर्ता सम्मिलित हुये।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुये श्री विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल सभी दिल्लीवासियों को “पानी माफ-बिजली हाफ“ का वायदा करके सत्ता में आये थे किन्तु सत्ता में आने के बाद ही उन्होंने इन दोनों ही मुद्दे पर दिल्लीवासियों को धोखा दिया। सभी को फ्री पानी देने की जगह केवल पानी के मीटर लगे उपभोक्ताओं को 20,000 लीटर प्रति माह तक ही फ्री पानी देने की घोषणा की। सहाकारी सोसायटियों, अनधिकृत कालोनियों या झुग्गी बस्तियों में रहने वाले उपभोक्ताओं को इसका कोई लाभ नहीं मिला।

श्री गुप्ता ने कहा कि कुछ महीने पूर्व तक केजरीवाल सरकार ने यह दावा किया था कि दिल्ली जल बोर्ड मुनाफा कमा रही है किन्तु एकाएक मुख्यमंत्री ने पानी की दरों मंे 20 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की है जिससे उपभोक्ताओं पर प्रति वर्ष 500 से 600 करोड़ रूपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। इस 20 प्रतिशत की वृद्धि के बाद आज दिल्ली के लोगों को दोहरा धोखा हुआ है, पहले उन्हें मुफ्त पानी से वंचित रखा गया और अब सरकार द्वारा यह दावा किये जाने के बादवजूद कि दिल्ली जल बोर्ड को कोई घाटा नहीं हो रहा, पानी की दरों में वृद्धि की गई है।

श्री पवन शर्मा ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने अनधिकृत कालोनियों में रहने वाले लाखों लोगों के लिए समुचित पानी की व्यवस्था न करके पूरी तरह निराश किया है। केजरीवाल सरकार तीन वर्षों के बाद भी अनधिकृत कालोनियों के लोगों को वाटर टैंकरों पर निर्भर करना पड़ रहा है जिन पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। उनके लिए तो मुफ्त पानी एक सपने जैसा है।

श्री राजीव बब्बर, श्री रविन्द्र गुप्ता, श्री राजेश भाटिया, श्री जय प्रकाश, श्री अभय वर्मा तथा कुछ अन्य नेताओं ने भी इस अवसर पर अपनी बातें रखीं। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोगों को दिल्ली जल बोर्ड में हो रहे भ्रष्टाचार की कीमत चुकानी पड़ रही है क्योंकि शीला दीक्षित सरकार के दौरान शुरू हुआ वाटर टैंकर घोटाला केजरीवाल सरकार के अधीन भी बदस्तूर जारी है।

दिल्ली भाजपा के पदाधिकारियों ने यह घोषणा की कि पानी की दरों में वृद्धि के खिलाफ हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा और हम केजरीवाल सरकार को इसे वापस लेने के लिए बाध्य करेंगे।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कहा है कि केजरीवाल सरकार द्वारा पानी की दरों मंे की गई 20 प्रतिशत की वृद्धि का प्रभाव उन उपभोक्ताओं पर सबसे अधिक पड़ेगा जिन्हें बिना मीटर के पानी के कनेक्शन दिये गये हैं क्योंकि उन्हें पूरी खपत के लिए बढ़े हुये दरों पर बिल चुकाना होगा। इसी प्रकार वे सभी उपभोक्ता जो 20,000 लीटर पानी से अधिक की खपत करते हैं और जिनके घरों में मीटर लगे हुये हैं उन्हें भी बढ़ी हुई दरों पर भुगतान करना पड़ेगा। इससे पूरे मध्य वर्ग पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा विशेष रूप से उन पर जो ग्रुप हाउसिंग सोसायटियों, अनधिकृत कालोनियों और झुग्गी बस्तियों में रहते हैं और जिनके घरों में मीटर युक्त कनेक्शन नहीं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*